सागर सी गहराई हो
पर्वत सी ऊँचाई हो
रोम - रोम में खुशहाली हो
हर दिल में सच्चाई हो

मंगलवार, 19 जनवरी 2010

बसंत

सुखद बहारें लेकर आया , फिर से आज बसंत  |
मौसम है रंगीन हर तरफ नीले अम्बर के नीचे ,
प्यारी - प्यारी धूप लग रही आज शीत का हो गया अन्त  |
सुखद बहारें लेकर आया , फिर से आज बसंत  |
बाग़ - बगीचों की शोभा लगती है कितनी प्यारी ,
खुशहाली के इस दिन पर झूम रही क्यारी -क्यारी ,
पीले -पीले पुष्प सुनाते यह सन्देश हैं हमको  ,
उठो - उठो देखो हर ओर नभ में छाया आज बसंत  |
सुखद बहारें लेकर आया , फिर से आज बसंत  |
विद्या की देवी सरस्वती हम पर प्यार लुटाती है  ,
इसीलिए इस दिन पर देखो  उसकी पूजा होती है ,
इस दिन पर कोयल  हमको  मीठा गीत सुनाती है ,
कोयल के मीठे स्वर कुंजन में बहता आया आज बसंत |
सुखद बहारें लेकर आया , फिर से आज बसंत  |
स्वच्छ   आसमां  लगता है इस दिन कितना प्यारा ,
रंगीन पतंगों से है देखो  भरा  हुआ  नभ   सारा  ,
पीली - पीली सरसों के संग आया है फलदार बसंत  |
सुखद बहारें लेकर आया , फिर से आज बसंत  |

 

4 टिप्‍पणियां:

  1. "सरस्वती माता का सबको वरदान मिले,
    वासंती फूलों-सा सबका मन आज खिले!
    खिलकर सब मुस्काएँ, सब सबके मन भाएँ!"

    --
    क्यों हम सब पूजा करते हैं, सरस्वती माता की?
    लगी झूमने खेतों में, कोहरे में भोर हुई!
    --
    संपादक : सरस पायस

    उत्तर देंहटाएं
  2. Happy basant and sarwswti puja
    ABHINAV

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत सुन्दर रचना ....बसंत पंचमी की शुभकामनाये और बधाई.

    उत्तर देंहटाएं
  4. यह कविता बहुत सुंदर है

    उत्तर देंहटाएं

हिन्दी में लिखिए

Hindi Blog Tips

TIPS

HONESTY IS THE BEST POLICY
LAUGHTER IS THE BEST MEDICINE
Loading...

समर्थक

मेरे बारे में

मेरी फ़ोटो
नाम : आदेश कुमार पंकज पिता का नाम :( स्व०) श्री किशोरी लाल गुप्ता माता का नाम : श्रीमती पुष्पावती गुप्ता जन्म तिथि : ३०.०६ 1963 जन्म स्थान : शाहजहाँपुर (उ .प्र .) शिक्षा : एम ० एस - सी० ( गणित शास्त्र ) एम ० ए० ( अर्थ शास्त्र ) बी० एड० साहित्यिक परिचय : अनेकों कहानी व् कविताएँ विभिन्न पत्र - पत्रिकाओं में प्रकाशित | आकाशवाणी लखनऊ से बाल कविताएँ प्रचारित | अनेकों कवि सम्मेलनों कि अध्यक्षता व् संचालन | कस्तूरी कंचन आगमन संस्था द्वारा प्रकाशित एवम दोहा कलश संयुक्त दोहाकारों के रूप में प्रकाशाधीन | पुरस्कार : अखिल भारतीय वैश्य समाज शाहजहाँपुर द्वारा वैश्य रत्न से सम्मानित | कई कवि सम्मेलनों में विशेष सम्मान | माननीय शिक्षा मंत्री भारत सरकार श्रीमती स्मृति ईरानी द्वारा सम्मानित | विधालय प्रबंधन द्वारा लगातार आठ वर्षों से सम्मानित | वर्तमान में आदित्य बिरला पब्लिक स्कूल , रेनुसागर , सोनभद्र (उ ,प्र .) में प्रवक्ता गणित शास्त्र के पद पर कार्य रत | संपर्क : जूनियर ४५ - ए रेनुसागर ,सोनभद्र (उ.प्र.)- २३१२१८ मोब .नंबर . ९४५५५६७९८१

arnava

THANKS FOR VISITING