सागर सी गहराई हो
पर्वत सी ऊँचाई हो
रोम - रोम में खुशहाली हो
हर दिल में सच्चाई हो

मंगलवार, 19 जनवरी 2010

मैं हूँ कोयल

मैं हूँ कोयल प्यारी प्यारी ,
हर पक्षी से मैं हूँ न्यारी  |
डाल  - डाल फुदक -फुदक कर ,
मैं मीठा गीत सुनाती हूँ  |
बागों की मैं रानी हूँ  ,
सबमें खुशहाली लाती हूँ |
मीठे -मीठे सन्देशों से ,
सबका दर्द मिटाती हूँ  |
मैं हूँ कोयल मतवाली ,
मैं हूँ कोयल काली -काली ,
मिसरी जैसी  मेरी बोली ,
मेरी कोयलिया कूँ - कूँ से ,
झूम उठे क्यारी -क्यारी |
मैं हूँ कोयल प्यारी -प्यारी |
हर पक्षी से मैं हूँ न्यारी  |

बसंत

सुखद बहारें लेकर आया , फिर से आज बसंत  |
मौसम है रंगीन हर तरफ नीले अम्बर के नीचे ,
प्यारी - प्यारी धूप लग रही आज शीत का हो गया अन्त  |
सुखद बहारें लेकर आया , फिर से आज बसंत  |
बाग़ - बगीचों की शोभा लगती है कितनी प्यारी ,
खुशहाली के इस दिन पर झूम रही क्यारी -क्यारी ,
पीले -पीले पुष्प सुनाते यह सन्देश हैं हमको  ,
उठो - उठो देखो हर ओर नभ में छाया आज बसंत  |
सुखद बहारें लेकर आया , फिर से आज बसंत  |
विद्या की देवी सरस्वती हम पर प्यार लुटाती है  ,
इसीलिए इस दिन पर देखो  उसकी पूजा होती है ,
इस दिन पर कोयल  हमको  मीठा गीत सुनाती है ,
कोयल के मीठे स्वर कुंजन में बहता आया आज बसंत |
सुखद बहारें लेकर आया , फिर से आज बसंत  |
स्वच्छ   आसमां  लगता है इस दिन कितना प्यारा ,
रंगीन पतंगों से है देखो  भरा  हुआ  नभ   सारा  ,
पीली - पीली सरसों के संग आया है फलदार बसंत  |
सुखद बहारें लेकर आया , फिर से आज बसंत  |

 

रविवार, 10 जनवरी 2010

टमाटर

लाल टमाटर प्यारा है ,
हर सब्जी से न्यारा है  |
जो भी इसको खाता है ,
चुस्ती - फुर्ती पाता है  |
कभी नहीं  हो  वह  बीमार ,
सारे जग का पाये प्यार  |

अनार

  जो भी खाये लाल अनार ,
शक्ति पाये अपरम्पार   |
लाल - लाल तन दमके उसका ,
हीमोग्लोबिन का भंडार   ||

नव - वर्ष मंगलमय हो

जीवन में आयें नए ,
नए - नए नित हर्ष   |
मंगल - मय हो , हर्ष मय ,
सुख मय नूतन वर्ष  | |
ओम प्रकाश अडिग 
रोशन गंज , शाहजहांपुर  २४२००१
मो . न. 09936141826

हिन्दी में लिखिए

Hindi Blog Tips

TIPS

HONESTY IS THE BEST POLICY
LAUGHTER IS THE BEST MEDICINE
Loading...

समर्थक

मेरे बारे में

मेरी फ़ोटो
नाम : आदेश कुमार पंकज पिता का नाम :( स्व०) श्री किशोरी लाल गुप्ता माता का नाम : श्रीमती पुष्पावती गुप्ता जन्म तिथि : ३०.०६ 1963 जन्म स्थान : शाहजहाँपुर (उ .प्र .) शिक्षा : एम ० एस - सी० ( गणित शास्त्र ) एम ० ए० ( अर्थ शास्त्र ) बी० एड० साहित्यिक परिचय : अनेकों कहानी व् कविताएँ विभिन्न पत्र - पत्रिकाओं में प्रकाशित | आकाशवाणी लखनऊ से बाल कविताएँ प्रचारित | अनेकों कवि सम्मेलनों कि अध्यक्षता व् संचालन | कस्तूरी कंचन आगमन संस्था द्वारा प्रकाशित एवम दोहा कलश संयुक्त दोहाकारों के रूप में प्रकाशाधीन | पुरस्कार : अखिल भारतीय वैश्य समाज शाहजहाँपुर द्वारा वैश्य रत्न से सम्मानित | कई कवि सम्मेलनों में विशेष सम्मान | माननीय शिक्षा मंत्री भारत सरकार श्रीमती स्मृति ईरानी द्वारा सम्मानित | विधालय प्रबंधन द्वारा लगातार आठ वर्षों से सम्मानित | वर्तमान में आदित्य बिरला पब्लिक स्कूल , रेनुसागर , सोनभद्र (उ ,प्र .) में प्रवक्ता गणित शास्त्र के पद पर कार्य रत | संपर्क : जूनियर ४५ - ए रेनुसागर ,सोनभद्र (उ.प्र.)- २३१२१८ मोब .नंबर . ९४५५५६७९८१

arnava

THANKS FOR VISITING