सागर सी गहराई हो
पर्वत सी ऊँचाई हो
रोम - रोम में खुशहाली हो
हर दिल में सच्चाई हो

रविवार, 29 मार्च 2009

सूरज


सूरज
रोज़ सबेरे सूरज आकर, जग में उजियाला करता ।
चाहे कोई धर्म , मजहव हो, उनमे भेद नही करता ।
जीवन पथ पर बढते जाओ, हमको राह दिखाता है ।
कर्तव्य मार्ग से डिगो नही, हमको यही सिखाता है ।


शनिवार, 28 मार्च 2009

सेव


Ckky dfork

, ls ,fiy ]

ch ls cky A

lh ls dSV ]

Mh ls MkWy A

jkst [kkvks ]

Pkkoy nky A

fQj crykvks ]

viuk gky A

, ls ,fiy ]

ch ls cSx A

lh ls dSu ]

Mh ls MkWx A

fuR; losjs ]

tYnh tkx A

ckgj tkdj ]

/khjs ] /khjs Hkkx A

b ls ,x ]

,Q ls QSu A

Tkh ls xyZ ]

,p ls gsu A

lcls igys ]

dj Luku A

mlds ckn ]

dj tyiku A

vukj

tks Hkh [kk;s yky vukj ]

“kfDr ik;s vijEikj A

Ykky &yky ru neds mldk ]

gheksXyksfcu dk HkaMkj A

VekVj

Ykky VekVj I;kjk gS ]

gj lCth ls U;kjk gS A

tks Hkh bldks [kkrk gS ]

pqLrh& QqrhZ ikrk gS A

dHkh ugha og gks chekj ]

lkjs tx dk ik;s I;kj A


जन्म दिवस


जनम दिवस
मानसी बेटी के जनम दिवस पर
कई सहेलियाना आयी
गरिमा , आराधना , आकांशा
श्रेष्ठी , वंदना भी आयी
केक बना , गुब्बारे फूले
झालर खूब सजाई
उछले , कूदे , नाचे , गाये
खुशियाना खूब मनायी
माल पुए रसगुल्ले खाये
धमा चौकरी खूब मचायी
रंग - बीरंगे प्यारे - प्यारे
संग में उपहारों को लायीं

इंद्रधनुष

इंद्रधनुष
नीला - पीला और बैगनी

हरा , लाल - नारंगी

आसमान में बना हुआ

इंद्रधनुष- सतरंगी

नाव


नाव
रानी मुन्नी ने कागज की

एक सुंदर नाव बनाई ।

बरस रहा था पानी बाहर

जाकर के स्वयं चलायी ।

हिन्दी में लिखिए

Hindi Blog Tips

TIPS

HONESTY IS THE BEST POLICY
LAUGHTER IS THE BEST MEDICINE
Loading...

समर्थक

मेरे बारे में

मेरी फ़ोटो
नाम : आदेश कुमार पंकज पिता का नाम :( स्व०) श्री किशोरी लाल गुप्ता माता का नाम : श्रीमती पुष्पावती गुप्ता जन्म तिथि : ३०.०६ 1963 जन्म स्थान : शाहजहाँपुर (उ .प्र .) शिक्षा : एम ० एस - सी० ( गणित शास्त्र ) एम ० ए० ( अर्थ शास्त्र ) बी० एड० साहित्यिक परिचय : अनेकों कहानी व् कविताएँ विभिन्न पत्र - पत्रिकाओं में प्रकाशित | आकाशवाणी लखनऊ से बाल कविताएँ प्रचारित | अनेकों कवि सम्मेलनों कि अध्यक्षता व् संचालन | कस्तूरी कंचन आगमन संस्था द्वारा प्रकाशित एवम दोहा कलश संयुक्त दोहाकारों के रूप में प्रकाशाधीन | पुरस्कार : अखिल भारतीय वैश्य समाज शाहजहाँपुर द्वारा वैश्य रत्न से सम्मानित | कई कवि सम्मेलनों में विशेष सम्मान | माननीय शिक्षा मंत्री भारत सरकार श्रीमती स्मृति ईरानी द्वारा सम्मानित | विधालय प्रबंधन द्वारा लगातार आठ वर्षों से सम्मानित | वर्तमान में आदित्य बिरला पब्लिक स्कूल , रेनुसागर , सोनभद्र (उ ,प्र .) में प्रवक्ता गणित शास्त्र के पद पर कार्य रत | संपर्क : जूनियर ४५ - ए रेनुसागर ,सोनभद्र (उ.प्र.)- २३१२१८ मोब .नंबर . ९४५५५६७९८१

arnava

THANKS FOR VISITING